घरेलू तरीकों से छुड़ाएं धूम्रपान की आदत

No Comments
धूम्रपान एक ऐसी जानवेला आदत है जिससे छुटकारा पाना ना केवल मुश्किल है बल्कि इस आदत को छोड़ना हर किसी के बस में नहीं। भले ही इसे छोड़ना बहुत ही मुश्किल है लेकिन नामुमकिन नहीं। जी हां आयुर्वेदिक उपायों की मदद से आप धूम्रपान की आदत को न केवल छोड़ सकते हैं बल्कि इसका असर आपको केवल 5 मिनट में असर दिखना शुरू हो जाएगा।

अदरक
अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े करके उसमें थोड़ा सा काला नमक और थोड़ा सा ही नींबू मिलाकर धूप में सूखा लें। जब यह सूख जाये तो इसे अपनी जेब में रख लें। जब भी सिगरेट की तलब लगे तो थोड़ी सी मात्रा में मुंह में रख लें। अदरक में मौजूद सल्‍फर सिगरेट या किसी भी नशीले पदार्थ की तलब को दूर करता है। और आपको इस उपाय को करने के बाद 5 मिनट में ही असर दिखने लगेगा।
आंवला
अदरक की तरह आंवला भी धूम्रपान की तलब को दूर करने में मदद करता है। इसके लिए आंवले के टुकड़ों में नमक मिलाकर सूखा लें। धूम्रपान की इच्‍छा होने पर इन टुकड़ों को चूसें। इसमें मौजूद विटामिन सी निकोटीन लेने की इच्‍छा कम करता है।
लाल मिर्च
लाल मिर्च में कैप्साइसिन के अलावा विटामिन सी भी मौजूद होता है, जो श्‍वसन प्रणाली को मजबूत और धूम्रपान की लालसा को कम करती है। इस मसाले को अपने खाने में प्रयोग करने के साथ ही आप इसका इस्‍तेमाल 1 गिलास पानी में चुटकी भर मिलाकर भी कर सकते हैं। इससे आपको तुरंत राहत मिलती है और यह उपाय लंबे समय तक काम करता है।
शहद
धूम्रपान ही नहीं किसी भी तरह के नशे को दूर करने के लिए शहद बेहद ही उपयोगी औषधि है। शहद में विटामिन, एंजाइम और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होते हैं जो धूम्रपान की तलब को छुड़वाने में मदद करते हैं। हमेशा शुद्ध शहद का प्रयोग करें क्‍योंकि इसका अच्‍छा प्रभाव पड़ता है।
मुलेठी
अपनी शर्ट की जेब में सिगरेट की जगह मुलेठी रखें। जब भी धूम्रपान का मन करें तो आप मुलेठी को अच्‍छे से चबा लें, आपकी धूम्रपान की इच्‍छा कम हो जाएगी। और इससे आपका पेट भी ठीक रहेगा।
तो देर किस बात की, अगर आप भी धूम्रपान छोड़ना चाहते हैं तो आज ही अपनाएं इनमें से किसी भी एक आयुर्वेदिक तरीके को और फिर देखें असर!

Dear readers, after reading the Content please ask for advice and to provide constructive feedback Please Write Relevant Comment with Polite Language.Your comments inspired me to continue blogging. Your opinion much more valuable to me. Thank you.