2017 लेटैस्ट बेस्ट Jokes And Suvichar हिन्दी मे

No Comments
दोस्तो आज मै आपके लिए 2017 के Jokes in Hindi के बेस्ट कलेक्शन और एक से बडकर एक Suvichar in Hindi (सुविचार) लेकर आया हु  अगर अच्छा लगे तो हमे कमेंट के माध्यम से जरूर बताये 

वक़्त और खुशी तेरे गुलाम होंगे,
हर पल और पहलू तेरे ही नाम होंगे,
ज़रा मूड कर देखना मेरे दोस्त,
तेरे हर कदम के नीचे मेरे हाथो के निशान होंगे….
****************************************
जिंदगी की परीक्षा कितनी वफादार है,

उसका पेपर कभी
लीक नहीं होता....!!
****************************************
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ,

और इनको ढंग से Activa भी सिखाओ 

बाल बाल बचा हूँ 
आज  उड़ा देती एक..
****************************************
और वो ऐतिहासिक मौक़ा आने वाला है

जब पूरे घरवाले राकेट छोड़ने के लिए बोतल की तलाश में तुम्हारी तरफ उम्मीद से देखेंगे
****************************************

पति-पत्नि दोनों खाना खा रहे थे...!!!
खाना खा के पति उठा और अपनी थाली धो दी...!!!


पत्नीे उसकी तरफ गुस्से से देखते हुए बोली,"कर दिया ना इज़्ज़त का फालूदा... हम घर पर नहीं... होटल में है...!!!
****************************************
जिस प्रकार आकाश से गिरा हुआ जल 
          किसी न किसी रास्ते से 
     होकर समुद्र में पहुँच ही जाता है
       उसी प्रकार निःस्वार्थ भाव से 
       की गई किसी की सेवा और 
     प्रार्थना  किसी न किसी रास्ते  से
        ईश्वर तक पहुँच ही जाती हैं
****************************************
इसे कहते हैं सादगी

ऑस्ट्रेलिया में रह कर पढाई करने वाले सऊदी अरब के एक स्टूडेंट ने अपने अब्बा जान को मेल किया.....

 ऑस्ट्रेलिया बहुत ही सुन्दर देश है और उतने ही सुन्दर यहाँ के लोग.
लेकिन मुझे उस समय शर्म आती है जब में 20 तोले सोने की चैन गले में डालकर अपनी फरारी से कॉलेज जाता हूँ जबकि सभी लोग ट्रेन से जाते हैं 
 आपका बेटा नसीर. 

दूसरे दिन उसे अब्बा का मेल मिला...

 बेटा, मैंने तुम्हारे अकाउंट में 20 मिलियन डॉलर डाल दिए है जाओ तुम भी ट्रेन ले लो। 

... तुम्हारा बाप
****************************************

स्कूल मे मेरी होती थी अक्सर पिटाईमैं 2G था, और मैडम थी Wi-Fi !!.
:उस पर मेरा, सॉफ्टवेयर बडा पुराना था !ट्यूब लाईट था मैं, जब CFL का जमाना था !!:..गणित में तो, मैं बचपन से ही फ़्लॉप था !भेजे का पासवर्ड, बड़े दिनों तक लॉक था !!:..जब जब स्कूल जाने में, मैं लेट हुआ!प्रिंसपल की डाँट से, सॉफ़्टवेयर अपडेट हुआ !!:..हाईस्कूल में, ईश्कका वायरस घुस बैठा !भेजे में सुरक्षित, सारा डाटा ,समाप्त कर बैठा !!:..नजरोंसेनजरें टकरायी, 10th क्लास में !मैसेजआया, मेरे दिलके इनबॉक्स में !!:..जब जब मैंने, आगे बढकर पोककिया !धीरे से उसने, नजरेंझुकाकर रोक दिया !!:..कॉलेज में देखा किसी गैर के साथ, तो मन बैठा !ईश्क का वायरस, एंटीवायरस बन बैठा !!:..वो रियल थी, लेकिन फ़ेक आईडी सी लगने लगी !बातों से अपनी, मेरे यारों को भी ठगने लगी !!:.आयी वो वापस,दिल पे मेरे नॉक किया !लेकिन फ़िर मैंने, खुद ही उसको ब्लॉक किया !!:..मेरे जीवन में, अब प्यार के लिए स्पेस नहीं !मैं 'योगी' हूँ पगली, मजनू का अवशेष नहीं !!:.कॉलेज से निकला, दुनियादारी सीखने लगा !बना मैं शायर, देशप्रेम पर लिखने लगा !!:..डरता है दिल, जिंदगी मेरी ना वेस्ट हो !जो कुछलिखूँ,सदियों तक कॉपी पेस्ट हो !!
**********************************************************
ताश का जोकर और अपनों की ठोकर
अक्सर बाजी घुमा देती है।
अपनी सहनशीलता को बढाइए।
छोटी मोटी घटना से हताश मत होईये।
जो चंदन घिस जाता है,वह भगवान के मस्तक  पर लगाया जाता है;
और 
जो नही घिसता वह तो सिर्फ जलाने के काम ही आता है!
******************************************
"बड़प्पन" वह गुण है
जो पद से नहीं "संस्कारों"
से प्राप्त होता है।

परायों को अपना बनाना उतना मुश्किल नहीं, 
जितना अपनों को अपना बनाए रखना
******************************************
अगर  इंसान शिक्षा के पहले संस्कार 
व्यापार से पहले व्यवहार 
भगवान से पहले
 माता पिता को  पहचान ले तो
जिन्दगी में 
  कभी कोई कठिनाई नहीं आयेगी
******************************************
एक ताज़गी, एक एहसास..
एक खूबसूरती, एक आस..
एक आस्था, एक विश्वास..
यही है एक अच्छे दिन की शुरुवात…
******************************************
प्रसन्न व्यक्ति वह है जो
निरंतर स्वयं का
 मूल्यांकन एवम् सुधार करता है 
जबकि दुःखी वह है जो..
दुसरो का मूल्यांकन करता रहता है..
******************************************
क्रोध और आंधी दोनों बराबर होते है.!
शांत होने के बाद ही पता चलता है की कितना नुकसान हुआ है.!
इसलिए हमेशा मुस्कुराते रहिये
 अच्छी सोच, अच्छी भावना,
अच्छा विचार मन को हल्का करता है।
******************************************
सत्य को कहने के लिए
किसी शपथ की जरुरत नहीं होती,
नदियों को बहने के लिए
किसी पथ की जरुरत नहीं होती,
जो बढ़ते है ज़माने में अपने मजबूत इरादों पर,
उन्हें अपनी मंजिल पाने के लिए
किसी रथ की जरुरत नहीं होती !!
******************************************
ग़लतफ़हमी की हद दो महिलाएँ आपस में बात कर रही थी -

पहली:- मेरे मन में कई दिनसे एक बात उठ रही है.

दूसरी  - वो क्या बहन ???

पहली:- आदमी कोई उपवास नहीं करता,, फिर भी उसको हम जैसी सुशील,शांत और आज्ञाकारी पत्नी कैसे मिल जाती है ?????
******************************************
"राहत" भी अपनों से मिलती है,
"चाहत" भी अपनों से मिलती है ..!
अपनों से कभी रूठना नहीं,  
क्योंकि, "मुस्कुराहट" भी सिर्फ,
अपनों से मिलती है ..!!
अपना ख़याल रखना‼
.आपका दिन शुभ हो‼
******************************************
वही सच्चा दोस्त है जो शराब पीके उलटी होनेपर,
पीठ थपथपाए
कुल्ला करने को पानी दे,

और पूछे अगर फ्रेश महसूस हो रहा हो तो 1 हल्का बना दूँ !!!
.
बाकी सब मोहमाया  हैं!!!
******************************************


Dear readers, after reading the Content please ask for advice and to provide constructive feedback Please Write Relevant Comment with Polite Language.Your comments inspired me to continue blogging. Your opinion much more valuable to me. Thank you.

loading...