What Is Love? प्यार क्या है जानना हो तो जरूर पढ़े !!

No Comments

What Is Love? प्यार क्या है  जानना हो तो जरूर पढ़े !!

What Is Love? प्यार क्या है  जानना हो तो जरूर पढ़े !!

प्यार वो हैं.. 

जब माँ रात को आती है 
और कहती हैं..
"सो जा, बाकी सुबह उठ कर पढ़ लेना"


❤प्यार वो हैं ...
जब हम tution से वापस आये और पापा कहे-
"बेटा लेट होने वाले थे तो कॉल कर देते"
💜

💗प्यार वो है....
जब भाभी कहती हैं -
"ओये हीरो;
लड़की पटी की नही"


💘प्यार वो हैं....
जब बहन कहती हैं-
"देखूंगी मेरी शादी के बाद तेरा काम कौन करेगा
💞

💓"प्यार वो हैं....
जब हम निराश हो और भाई आकर कहे-
"चल नौटंकी कही घुमने चलते हैं"


💞प्यार वो है...
जब दोस्त कॉल करके कहे-
ओये कमीने जिन्दा हैं या मर गया"

यह है सच्चा प्यार।
इसे अपने जीवन मैं बिलकुल भी ना गवाएं..

💑प्यार केवल गर्ल फ्रेंड या बॉय फ्रेंड होना ही नही हैं।
यह प्यार उससे भी ऊपर हैं।

[वक़्त अच्छा ज़रूर आता है;
मगर वक़्त पर ही आता है! 

कागज अपनी किस्मत से उड़ता है;   लेकिन पतंग अपनी काबिलियतसे!

इसलिए किस्मत साथ दे या न दे;
काबिलियत जरुर साथ देती है!

      दो अक्षर का होता है लक;

   ढाई अक्षर का होता है भाग्य;

    तीन अक्षर का होता है नसीब;

 साढ़े तीन अक्षर की होती है किस्मत;

पर ये चारों के चारों चार अक्षर, मेहनत से छोटे होते हैं!........

जिंदगी में दो लोगों का ख्याल रखना बहुत जरुरी है!
पिता: जिसने तुम्हारी जीत के लिए सब कुछ हारा हो!
माँ: जिसको तुमने हर दुःख में पुकारा हो! 

काम करो ऐसा कि पहचान बन जाये;

हर कदम चलो ऐसे कि निशान बन जायें;

यह जिंदगी तो सब काट लेते हैं;
जिंदगी ऐसे जियो कि मिसाल बन जाये!

भगवान की भक्ति करने से शायद हमें माँ न मिले;
लेकिन माँ की भक्ति करने से भगवान् अवश्य मिलेंगे! 

अहंकार में तीन गए;
धन, वैभव और वंश!
ना मानो तो देख लो;
रावन, कौरव और कंस!.

'इंसान' एक दुकान है, और 'जुबान' उसका ताला;
जब ताला खुलता है, तभी मालुम पड़ता है;

कि दूकान 'सोने' कि है, या 'कोयले

एक दिन मैं कॉलेज से घर आने के
लिये निकला आसमान में बादल थे...
लग रहा था कि बारिश होने वाली थी...

इसलिए सोचा कि घर जल्दी पहुँच जाऊँ पर रास्ते में
ही बारिश शुरू हो गई और मैं भीग गया...!!!  


घर जाते ही बड़ी बहन ने कहा -: "थोड़ी देर रुक
नही सकते थे...??"
.
बड़े भाई ने कहा -: "कहीं साइड में खड़े
हो जाते ...??"
.
पापा ने कहा -: "खड़े कैसे हो जाते..!! जनाब
को बारिश में भीगने का शौक जो है..??"
.
.
.
इतने में मम्मी आई और सिर पर टॉवेल रखते हुऐ
बोली -: "ये बारिश भी ना... थोड़ी देर रुक
जाती तो मेरा बेटा घर आ जाता...!!!"
'माँ' तो 'माँ' होती है...

Dear readers, after reading the Content please ask for advice and to provide constructive feedback Please Write Relevant Comment with Polite Language.Your comments inspired me to continue blogging. Your opinion much more valuable to me. Thank you.

loading...