क्या आपको बचपन के क्रिकेट के रूल याद है?

No Comments

क्या आपको बचपन के क्रिकेट के रूल याद है?

बचपन के cricket के रुल्स 

आठ ईंटो की विकेट होगी 
.
पहली try ball होगी 
.
जो बाऊन्डरी के बाहर ball फेकेंगा,वो खुद वापस लेके आयेगा.... 
.
बैटिंग टीम अम्पायरींग करेगा.... 
दिवार को डायरेक्ट लगा तो सिक्स,बॉल बाहर गयी तो आऊट….
.
आखिरी वैट्समैन अकेला वैटिंग कर सकता है…
.
जो बीच मे गेम छोरेगा,उसे कल नही खिलायेंगे.. 
.
जो बॉल बाहर फेकेगाा वो खुद लायेगा,नही तो खरीद कर देगा…  
.
छोटे बच्चे केवल fielding करेंगे, उनको लास्ट मे खिलायेंगे…
.
जब अंधेरा हो जायेगा ball slow करायी जायेगी..
.
दिवार को लग कर कैच हूआ तो not out…
.
तीन ball लगातार वाईड की तो औवर कैंसिल…
.
जो जीतेगा वो अगली बार पहले वैटिंग करेगा.. 
.
कीपर अगर आगे से बॉल पकरा तो out नही होगी,no ball मिलेगा.. 
.
बैटिंग नही आई तो fielding नही… 
.
तीन वॉल से ज्यादा पर रन नही बना तो रिटायर..
.
अगर एम्पायर की बात नही मानी तो देखने वाले का अंतिम फैसला होगा.. 
.
मैच के दौरान अगर घर से वुलावा आ गया तो जा सकता है, पारी नही कटेगी… 
.
जिसका वैट होगा ओपनिंग वही करेगा..  
.
आउट होने पर अंपायर को कसम खाना पड़ेगा
तभी आउट मना जायेगा 
।।    ।।।।।।।
.
MISS MY बचपन 
.

Dear readers, after reading the Content please ask for advice and to provide constructive feedback Please Write Relevant Comment with Polite Language.Your comments inspired me to continue blogging. Your opinion much more valuable to me. Thank you.

loading...